राष्ट्रीय कबीर सम्मान की घोषणा

संस्कृति संचालनालय

राष्ट्रीय कबीर सम्मान की घोषणा

संस्कृत, उड़िया, मलयालम एवं तेलुगु कवियों को सम्मान

भारतीय भाषाओं की कविता के क्षेत्र में उत्कृष्ट सृजन, सुदीर्घ साधना एवं जीवनपर्यन्त सक्रियता के लिए मध्यप्रदेश शासन द्वारा स्थापित राष्ट्रीय कबीर सम्मान की घोषणा की गयी है। वर्ष 2013 से 2016 तक चार वर्षों के लिए यह सम्मान क्रमशः संस्कृत, उड़िया, मलयालम और तेलुगु भाषा के मूर्धन्य कवियों को प्रदान किया जायेगा।

इस आशय की घोषणा संस्कृति विभाग द्वारा इन सम्मानों की चयन समिति की बैठक में सर्वसम्मत निर्णय के आधार पर की गयी अनुशंसाओं पर की। इसके अन्तर्गत संस्कृत के मूर्धन्य कवि पं. रेवा प्रसाद दिवेदी को वर्ष 2013, उड़िया की प्रतिष्ठित कवि सुश्री प्रतिभा सत्पथी को वर्ष 2014 का, मलयालम के वरिष्ठ कवि श्री अत्तूर रवि वर्मा को वर्ष 2015 का तथा तेलुगु के सुप्रतिष्ठित कवि श्री के. शिवा रेड्डी को वर्ष 2016 का कबीर सम्मान प्रदान किया जायेगा।

इस सम्मान के अन्तर्गत प्रत्येक कवि को तीन-तीन लाख रुपए की आयकरमुक्त राशि, सम्मान पट्टिका, शॉल व श्रीफल प्रदान किए जायेंगे। चयन समिति में प्रख्यात विद्वान एवं लेखक-कवि डॉ राधावल्लभ त्रिपाठी, श्री गोविन्द मिश्र व श्री कैलाश चन्द्र पन्त शामिल थे। सम्मानित घोषित कवियों को शीघ्र ही एक गरिमामयी समारोह में ये सम्मान प्रदान किए जायेंगे।